आखिर हमें हिचकी क्यों आती है

दोस्तों क्या आपको पता है आखिर हमें हिचकी क्यों आती है?  कई लोग तो यह कहते हैं कि कोई हमें याद कर या चाहे वह हमारे प्रेमी हो या हमारे रिश्तेदार बरहाल यह कथन पूर्णता गलत है | क्योंकि यह अंधविश्वास मात्र है |

ऐसा कुछ नहीं होता इसका मुख्य कारण तो कुछ और है | तो आइए जानते हैं हमें हिचकी क्यों आती है कभी-कभी खाना खाते समय अचानक जोर जोर से हिचकियां आने लगती है | इस परेशानी से निजात पाने के लिए हम लोग पानी पीते हैं | फिर भी बार-बार होने वाली हिचकी से छुटकारा नहीं मिलती क्यों ? दरअसल गले के डायफ्राम को नियंत्रित करने वाली नाड़ियों में उत्तेजना होने से ऐसा होता है | जानते हो खाना जल्दी खा लिया तेज मसालेदार भोजन का सेवन करने से ,वैसे इसके दूसरे कारण भी हो सकते हैं |

बहरहाल जब गले की नाडियों में पैदा हुई उत्तेजना की वजह से डायफ्राम बार-बार सिकुड़ने लगता है ,तो फिर बाहर की हवा को अंदर की ओर खींच लेते हैं| आमतौर पर यह डकार के माध्यम से बाहर तो आ जाती है|  लेकिन कभी-कभी या खाने के विभिन्न लेय्श के बीच फंस जाती है बिल्कुल सही समझा आपने |  तो हिचकी इस हवा को बाहर निकालने का काम करती है | इसलिए जैसे ही हवा खाने की विभिन्न स्तरों के बीच फंस जाती है इस हवा को बाहर निकालने के लिए शुरू हो जाती है |जनना जरूरी है इसलिए थोड़ी देर के लिए क्योंकि जो हमारे अंदर नहीं पहुंच पाता और co2 की मात्रा बढ़ जाती है और फिर हमारे हिचकी रुक जाती है इसलिए कभी भी अंधविश्वास में ना पड़े, और जाने के आखिर सत्यता क या है |क्या वह भी प्रमाण के साथ जाने |धन्यवाद

One thought on “आखिर हमें हिचकी क्यों आती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *